product-img

गुवाहाटी। नागरिकता संशोधन विधेयक पर असम गण परिषद (अगप) ने राज्य में सत्ताधारी भाजपा से अपना समर्थन वापस ले लिया है। अगप अध्यक्ष और मंत्री अतुल बोरा ने सोमवार को यह जानकारी दी। इस विधेयक में बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान के गैर मुस्लिम समुदाय के लोगों को भारत की नागरिकता प्रदान करने का प्रस्ताव किया गया है। पूरे पूर्वोत्तर में लोगों और संगठनों ने इस विधेयक का विरोध किया है।

पूर्वोत्तर के छात्र संगठनों ने क्षेत्र में मंगलवार को विधेयक के विरोध में बंद रखने का फैसला लिया है।अगप के एक प्रतिनिधिमंडल ने नई दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की। बोरा ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री ने जोर दिया कि सरकार मंगलवार को लोकसभा में विधेयक को पारित कराएगी।


Related News