product-img

दुबई। भारत के युवा विकेटकीपर रिषभ पंत के लिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज बहुत शानदार रही। पंत ने सिडनी में ड्रॉ रहे अंतिम टेस्ट मैच में शतक जड़ा था और उन्हें इसका लाभ आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में मिला।

पंत अब आईसीसी टेस्ट बल्लेबाजों की रैंकिंग में 21 स्थानों की छलांग लगाकर 17वें स्थान पर पहुंच गए। पंत ने इसी के साथ महेंद्रसिंह धोनी को पीछे छोड़ दिया जिनके करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग 19 रही थी। आईसीसी टेस्ट बल्लेबाजों की रैंकिंग में किसी भारतीय स्पेशलिस्ट विकेटकीपर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन फारुख इंजीनियर के नाम दर्ज हैं जब वो जनवरी 1973 में 17वें क्रम पर पहुंचे थे। 21 वर्षीय पंत ने इस रिकॉर्ड के मामले में इंजीनियर की बराबरी कर ली।

पंत ने सिडनी टेस्ट में 159 रनों की नाबाद पारी खेली थी और उन्हें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इस शतक का लाभ मिला। वे इससे पहले 38वें स्थान पर थे, लेकिन अब लंबी छलांग लगाकर पहली बार टॉप 20 में शामिल हो गए। उन्होंने जब ऑस्ट्रेलिया दौरे की शुरुआत की थी तब वे 59वें क्रम पर थे। उन्होंने सीरीज में 350 रन बनाए जिसका उन्हें लाभ मिला। उन्होंने इसके अलावा 20 शिकार भी किए।

चेतेश्वर पुजारा को धमाकेदार प्रदर्शन का इनाम मिला और वे एक पायदान उपर चढ़कर बल्लेबाजों में तीसरे क्रम पर पहुंच गए। विराट कोहली पहले और न्यूजीलैंड के केन विलियम्सन दूसरे क्रम पर बरकरार हैं। पुजारा ने सीरीज में 3 शतकों की मदद से 521 रन बनाए और भारत को ऐतिहासिक जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई।


Related News