product-img

नई दिल्ली : लोकसभा चुनाव का समय जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है वैसे-वैसे राजनीतिक दल अपनी जीत पक्की करने के लिए अपने गठबंधन को अंतिम रूप देने में जुट गए हैं। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अपनी सबसे पुरानी सहयोगी पार्टी शिवसेना के साथ महाराष्ट्र में सीटों के बंटवारे पर कदम बढ़ा दिया है। मीडिया रिपोर्टों के मानें तो भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को फोन किया। मीडिया में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि इस बातचीत के दौरान उद्धव ने शाह से 1995 के विधानसभा चुनाव में बने फॉर्मूले पर चुनाव लड़ने की बात कही। साल 1995 में महाराष्ट्र की 288 सीटों वाली विधानसभा में शिवसेना ने 169 एवं भाजपा ने 116 सीटों पर चुनाव लड़ा था।

इस चुनाव में भाजपा और शिवसेना ने 138 सीटें जीती थीं। शिवसेना 73 और भाजपा 65 सीटों पर विजयी रही। यहां निर्दलीय और अन्य के समर्थन से शिवसेना के मनोहर जोशी के नेतृत्व में दोनों दलों ने गठबंधन सरकार का गठन किया। समझा जाता है कि 1995 के सीट साझेदारी का यह फॉर्मूले यदि लागू हो जाता है और दोनों पार्टियों यदि गठबंधन सरकार बनाने की स्थिति में आती हैं तो शिवसेना मुख्यमंत्री पद पर अपना दावा कर सकती है। शाह लोकसभा चुनावों के मद्देनजर सीटों के बंटवारे पर समझौता चाहते हैं जबकि उद्धव की पहली प्राथमिकता विधानसभा चुनाव है।


Related News