एक व्यक्ति की उसके मकान से लाश बरामद

0

बालाघाट(पद्मेश न्यूज)। नगर के वार्ड नंबर 22 गोंदिया रोड स्थित एक मकान से एक व्यक्ति की लाश बरामद की गई मृतक दीपांश पिता बालमसिंह उईके 48 वर्ष की मौत गांजा व शराब के सेवन से होने की संभावना व्यक्त की गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार दीपांक उइके तीन भाई है बड़ा भाई रत्नेश उइके परिवार सहित गर्रा में रहता है तथा छोटा भाई अनूप उइके, दीपांक के ही मकान के कुछ दूरी पर ही एक मकान में अपने परिवार सहित रहता है।बताया गया है कि दीपांग की पत्नी, दो लड़के और एक बेटी भी है । दीपांक उईके शराब और गांजा पीने का आदि था। घरेलू विवाद के चलते 10 वर्ष पहले दीपांक को उसके पत्नी बच्चे छोड़कर वारासिवनी में रहते हैं ।6 माह पहले दीपांक एक कोचिंग सेंटर में चौकीदारी करता था किंतु वहां से उसे बंद कर दिया गया था। बताया गया है कि दीपांक को अनुसूचित जाति अधिनियम के तहत करीब डेढ लाख रुपए मिले थे जिससे वह अपना गुजर बसर करता था। और शराब, गांजा पीते रहता था। दीपांक को नगर में घूमते भी देखा गया है । 3 दिन से दीपाक नगर में कहीं आते-जाते दिखाई नहीं दे रहा था। 10 सितंबर को 3:30 बजे करीब दीपांग के मकान से दुर्गंध आने पर उसके भाई अनूप उइके को मोहल्ले वालों ने खबर दी। अनूप उइके ने घर में जाकर देखा दीपांक अपने घर के सामने वाले कमरे में मृत पड़ा था। लाश काफी दिन की होने से दुर्गंध आ रही थी अनूप उइके द्वारा की गई रिपोर्ट पर कोतवाली से सहायक उपनिरीक्षक देवकठसोनी सहित अन्य पुलिस अधिकारी भी मौके पहुंचे और पंचनामा कार्रवाई कर लाश पोस्टमार्टम हेतु जिला अस्पताल भिजवाया। दीपांक की लाश का पोस्टमार्टम नहीं हो पाया है जिसकी इलाज जिला अस्पताल के फ्रीजर में सुरक्षार्थ रखवा दी गई है। 11 सितंबर को लाश का पोस्टमार्टम कर परिजनों को सुपुर्द किया जाएगा। संभावना व्यक्त की गई है कि दीपांक की मौत अधिक शराब गांजा के सेवन से हुई। कोतवाली पुलिस द्वारा आगे जांच की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here