जंतर मंतर पर एक सुर में बोला विपक्ष, दोषियों को फांसी दो

0

हाथरस: उत्तर प्रदेश के हाथरस मैं दलित युवती के साथ कथित तौर पर हुए गैंगरेप और उसके बाद हुई पीड़िता की मौत का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। इसे लेकर देश के अलग-अलग हिस्सों में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। गुरुवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने हाथरस जाने की कोशिश की थी लेकिन उन्हें एक्सप्रेस वे पर ही रोक दिया गया। शुक्रवार को टीएमस का एक प्रतिनिधिमंडल गांव जाकर पीड़ित परिवार से मिलना चाहता था लेकिन पुलिस ने उन्हें हाथरस सीमा पर रोक दिया। टीएमसी की महिला सांसदों का आरोप है कि पुरुष कांस्टेबलों ने उनके साथ बदसलूकी की। हाथरस प्रशासन ने टीएमसी नेताओं के आरोपों को खारिज किया है।  

हाथरस में तनाव को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है औऱ पीड़िता का गांव छावनी में तब्दील हो चुकी है। नेताओं के दौरे को देखते हुए पूरे हाथरस में धारा 144 लागू कर दी गई है। यहां जानिए हाथरस मामले से जुड़ा हर ताजा अपडेट:

हाथरस मुद्दे पर न हो राजनीति 
इस मुद्दे पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए। यूपी, मध्य प्रदेश, राजस्थान, मुंबई या दिल्ली में ऐसी घटना क्यों होनी चाहिए? देश में बलात्कार की कोई घटना नहीं होनी चाहिए।पूरा देश चाहता है कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए। कुछ लोगों को लगता है कि उन्हें बचाने के प्रयास किए जा रहे हैं। इस समय, पीड़ित परिवार को हर संभव सहायता की आवश्यकता होती है

जनपथ मेट्रो पर एंट्री और एग्जिट बंद
जनपथ के लिए प्रवेश और निकास द्वार बंद है। इस स्टेशन पर ट्रेनों का ठहराव नहीं होगा। राजीव चौक और पटेल चौक के लिए निकास द्वार बंद हैं, दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन का कहना है कि ऐहतियातन निर्णय लिया गया है

हाथरस कांड के विरोध में दिल्ली में प्रदर्शन
हाथरस कांड के विरोध में विपक्ष पूरी तरह से योगी सरकार पर निशाना साध रहा है। एक तरफ दिल्ली स्थित वाल्मीकि मंदिर में प्रियंका गांधी ने पूजा अर्चना के बाद कहा कि इस लड़ाई को आगे बढ़ाने के लिए हर एक को आगे आना होगा। तो वाम दलों नें भी दिल्ली के जंतर मंतर पर प्रदर्शन किया। सीताराम येचुरी ने कहा कि अब यूपी सरकार को सत्ता में बने रहने का अधिकार नहीं है। वो लोग मांग करते हैं कि इस मामले में न्याय होना चाहिए। 

प्रियंका गांधी ने वाल्मीकि मंदिर में की पूजा
हाथरस कांड पर कांग्रेस हमलावर है, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने पीड़ित परिवार से मिलने के लिए दिल्ली से कूच किया था। लेकिन दोनों लोगों को गौतमबुद्धनगर जिला प्रशासन ने आगे बढ़ने से रोक दिया। अब इस मुद्दे को लेकर प्रियंका गांधी ने दिल्ली में वाल्मीकि मंदिर में मत्था टेका। 

चंद्रशेखर ऊर्फ रावण की चेतावनी
भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर कुछ इस तरह बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं। भारत के प्रधानमंत्री कहते हैं कि दलितों को मत मारो, मुझे मारो। चुनाव से पहले वो दलितों के पैर धोते हैं, वो नारा देते हैं कि बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ। जिस उत्तर प्रदेश से चुनकर वो सदन में गए हैं जब उसी उत्तर प्रदेश के हाथरस की बेटी के साथ हैवानियत होती है। उसके परिवार को बंधक बना लिया जाता है, तब प्रधानमंत्री एक शब्द नहीं बोलते, प्रधानमंत्री जी आप कब तक चुप रहेंगे? आपको जवाब देना पड़ेगा। आज शाम 5 बजे हम आपसे जवाब मांगने इंडिया गेट आ रहे हैं। आपकी चुप्पी बेटियों के लिए खतरा है, आपको जवाब देना पड़ेगा और न्याय करना पड़ेगा

पुलिस पर बदसलूकी करने का आऱोप
टीएमसी की प्रतिमा मंडल ने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कथित रेप पीड़िता के परिजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना देने के लिए हमें भेजा। हमने स्थानीय प्रशासन को अपने बारे में जानकारी दी लेकिन उसने हमें आगे नहीं जाने दिया। पुलिस ने धक्का देकर हमें बिठा दिया। यदि वे महिला सांसदों का सम्मान नहीं कर सकते तो आम लोगों की हालत आप समझ सकते हैं। 

हाथरस में तनाव को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है औऱ पीड़िता का गांव छावनी में तब्दील हो चुकी है। नेताओं के दौरे को देखते हुए पूरे हाथरस में धारा 144 लागू कर दी गई है। यहां जानिए हाथरस मामले से जुड़ा हर ताजा अपडेट:

हाथरस मुद्दे पर न हो राजनीति 
इस मुद्दे पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए। यूपी, मध्य प्रदेश, राजस्थान, मुंबई या दिल्ली में ऐसी घटना क्यों होनी चाहिए? देश में बलात्कार की कोई घटना नहीं होनी चाहिए।पूरा देश चाहता है कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए। कुछ लोगों को लगता है कि उन्हें बचाने के प्रयास किए जा रहे हैं। इस समय, पीड़ित परिवार को हर संभव सहायता की आवश्यकता होती है

जनपथ मेट्रो पर एंट्री और एग्जिट बंद
जनपथ के लिए प्रवेश और निकास द्वार बंद है। इस स्टेशन पर ट्रेनों का ठहराव नहीं होगा। राजीव चौक और पटेल चौक के लिए निकास द्वार बंद हैं, दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन का कहना है कि ऐहतियातन निर्णय लिया गया है

हाथरस कांड के विरोध में दिल्ली में प्रदर्शन
हाथरस कांड के विरोध में विपक्ष पूरी तरह से योगी सरकार पर निशाना साध रहा है। एक तरफ दिल्ली स्थित वाल्मीकि मंदिर में प्रियंका गांधी ने पूजा अर्चना के बाद कहा कि इस लड़ाई को आगे बढ़ाने के लिए हर एक को आगे आना होगा। तो वाम दलों नें भी दिल्ली के जंतर मंतर पर प्रदर्शन किया। सीताराम येचुरी ने कहा कि अब यूपी सरकार को सत्ता में बने रहने का अधिकार नहीं है। वो लोग मांग करते हैं कि इस मामले में न्याय होना चाहिए। 

प्रियंका गांधी ने वाल्मीकि मंदिर में की पूजा
हाथरस कांड पर कांग्रेस हमलावर है, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने पीड़ित परिवार से मिलने के लिए दिल्ली से कूच किया था। लेकिन दोनों लोगों को गौतमबुद्धनगर जिला प्रशासन ने आगे बढ़ने से रोक दिया। अब इस मुद्दे को लेकर प्रियंका गांधी ने दिल्ली में वाल्मीकि मंदिर में मत्था टेका। 

चंद्रशेखर ऊर्फ रावण की चेतावनी
भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर कुछ इस तरह बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं। भारत के प्रधानमंत्री कहते हैं कि दलितों को मत मारो, मुझे मारो। चुनाव से पहले वो दलितों के पैर धोते हैं, वो नारा देते हैं कि बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ। जिस उत्तर प्रदेश से चुनकर वो सदन में गए हैं जब उसी उत्तर प्रदेश के हाथरस की बेटी के साथ हैवानियत होती है। उसके परिवार को बंधक बना लिया जाता है, तब प्रधानमंत्री एक शब्द नहीं बोलते, प्रधानमंत्री जी आप कब तक चुप रहेंगे? आपको जवाब देना पड़ेगा। आज शाम 5 बजे हम आपसे जवाब मांगने इंडिया गेट आ रहे हैं। आपकी चुप्पी बेटियों के लिए खतरा है, आपको जवाब देना पड़ेगा और न्याय करना पड़ेगा

पुलिस पर बदसलूकी करने का आऱोप
टीएमसी की प्रतिमा मंडल ने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कथित रेप पीड़िता के परिजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना देने के लिए हमें भेजा। हमने स्थानीय प्रशासन को अपने बारे में जानकारी दी लेकिन उसने हमें आगे नहीं जाने दिया। पुलिस ने धक्का देकर हमें बिठा दिया। यदि वे महिला सांसदों का सम्मान नहीं कर सकते तो आम लोगों की हालत आप समझ सकते हैं। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here