जिले भर में छात्रों के लिए आंशिक तौर पर खुले सरकारी और प्राइवेट स्कूल

0

बालाघाट (पद्मेश न्यूज)। शासन के निर्देशों के तहत सोमवार को कक्षा 9वी से कक्षा बारहवीं तक के छात्रों के लिए स्कूल खोल दिए गए जहां स्कूल प्रबंधन के द्वारा कक्षों की व्यवस्था के साथ संबंधित शिक्षकों के माध्यम से स्कूल आने वाले छात्रों की समस्याओं को लेकर उन्हें मार्गदर्शन दिया गया। शहर के अधिकांश सरकारी एवं प्राइवेट स्कूलों में बहुत ही कम संख्या में छात्रों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई और छात्रों की संख्या गिनती की ही रही लेकिन व्यवस्थाओं को लेकर स्कूलों के द्वारा बेहतर इंतजाम किए गए वहीं शिक्षकों के विषय वार उपस्थिति सुनिश्चित की गई । गौरतलब है कि कोविड-19 के चलते करीब 6 महीनों से जिले के शैक्षणिक संस्थान में शैक्षणिक प्रक्रिया पर विराम लगा दिया गया था और वही शासन के निर्देशों के तहत ऑनलाइन शिक्षण प्रणाली के माध्यम से छात्रों को शिक्षा प्रदान की जा रही थी लेकिन 21 सितंबर से तमाम सरकारी एवं प्राइवेट स्कूलों को आंशिक तौर पर शैक्षणिक गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए खोल दिया गया है जिसके तहत कक्षा 9वी से लेकर कक्षा बारहवीं तक के छात्रों को पालको की अनुमति लेकर शिक्षकों से मार्गदर्शन लेने की अनुमति दे दी गई जिसके तहत जिले के सभी सरकारी एवं प्राइवेट स्कूलों में स्कूल प्रबंधन के द्वारा स्कूल पहुंचने वाले छात्रों के लिए तमाम व्यवस्था की गई जहां एक हो सभी विषय के शिक्षकों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए वहीं शासन की गाइडलाइन का पालन करते हुए परामर्श कक्षाओं का संचालन किया गया जिसमें संबंधित विषय शिक्षक के द्वारा छात्रों को आने वाली समस्याओं का त्वरित समाधान किया गया।
पूरक परीक्षाओं ने परामर्श कक्षा को किया प्रभावित
शहर के विभिन्न सरकारी स्कूलों में शिक्षा विभाग के निर्देशों के तहत बोर्ड की पूरक परीक्षा का आयोजन किया गया है जिसके तहत सोमवार को विभिन्न स्कूलों में एक पाली में पूरक परीक्षा आयोजित की गई जिसके कारण कक्षा 9वी से कक्षा बारहवीं तक के छात्रों के लिए परामर्श कक्षाओं के बेहतर व्यवस्था नहीं की जा सके नगर के शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय प्रबंधन के द्वारा परामर्श कक्षाओं को 23 सितंबर से आयोजित करने का निर्णय लिया गया और इस निर्णय से सभी छात्रों को अवगत करा दिया गया।
23 सितंबर से संचालित की जाएंगी परामर्श कक्षाएं- टीके गौतम
इस संदर्भ में पद्मेश न्यूज़ से चर्चा के दौरान शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय के व्याख्याता टीके गौतम ने बताया कि वर्तमान में पूरक परीक्षाओं का संचालन किया जा रहा है वही प्रायोगिक परीक्षाएं भी संचालित हो रही है इसलिए स्कूल प्रबंधन के द्वारा यह योजना तैयार की गई है कि परामर्श कक्षाओं का संचालन 23 सितंबर से किया जाए जिसकी जानकारी सभी छात्रों को दी जा चुकी है उन्होंने बताया कि शासन के निर्देशों के तहत अब तक व्हाट्सअप यूट्यूब के माध्यम से छात्रों को शैक्षणिक सुविधा दी जा रही थी और इस दौरान जिस विषय में छात्रों को दिक्कतें आ रही हैं उनके निराकरण को लेकर परामर्श कक्षाओं का संचालन किया जाएगा उन्होंने बताया कि आप प्रत्यक्ष तौर पर पढ़ाए जाने पर कई चीजें बच्चों को समझ में नहीं आती यदि परामर्श कक्षाओं के माध्यम से उन्हें प्रत्यक्ष तौर पर जानकारी और मार्गदर्शन दिया जाए तो उनकी विषय वार समस्याओं का समाधान किया जा सकता है पूर्व परीक्षाओं के कारण हमने पूर्व में ही निर्णय ले लिया था कि 21 सितंबर को कक्षा 9वी से कक्षा बारहवीं तक के बच्चों को नहीं बुलाएंगे लेकिन 23 सितंबर से जो भी छात्र स्कूल पहुंचता है उसके लिए व्यवस्था की जाएगी क्योंकि यदि उन्हें पूरक परीक्षाओं के बीच बुलाया जाता तो परिसर में काफी भीड़ भाड़ हो जाती है जो कि कोविड-19 के चलते ठीक नहीं है
पहले दिन स्कूल कम संख्या में पहुंचे छात्र
परामर्श कक्षाओं में 21 सितंबर को काफी कम संख्या में छात्र स्कूल पहुंचे नगर के शासकीय वीरांगना दुर्गावती स्कूल में कोई भी छात्र परामर्श के लिए उपस्थित नहीं हुआ इसी तरह नगर पालिका स्कूल में भी शिक्षकों से किसी भी छात्र के द्वारा संपर्क नहीं किया गया वही नगर के एमएलबी स्कूल में दो छात्राओं के द्वारा पालकों की अनुमति लेकर स्कूल पहुंचकर सहमति पत्र जमा कर परामर्श कक्षाओं में हिस्सा लिया गया।
ऑनलाइन कक्षा और प्रत्यक्ष तौर पर शिक्षा प्राप्त करने में अंतर -प्रीतिका मस्करे
पद्मेश न्यूज़ से चर्चा के दौरान छात्रा प्रीतिका मस्करे ने बताया कि कक्षा 11वीं और कक्षा बारहवीं मैं रसायन शास्त्र गणित और भौतिकी शास्त्र ऐसे विषय है जिन्हें ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से बेहतर ढंग से समझा नहीं जा सकता उन्होंने कहा कि शासन के द्वारा जो परामर्श कक्षाएं लगाई जा रही हैं उसे छात्रों को काफी सहूलियत होगी और उनको किसी भी विषय में आ रही दिक्कतों का समाधान करने में आसानी होगी उन्होंने कहा कोविड-19 को लेकर रिस्क तो है लेकिन शासन की गाइडलाइन का पालन करते हुए शिक्षा प्राप्त की जा सकती है।
शासन के निर्देशों का किया जा रहा पालन- प्राचार्य
पद्मेश न्यूज़ से चर्चा के दौरान एमएलबी स्कूल के प्राचार्य एके उपाध्याय ने बताया कि मध्य प्रदेश शासन के निर्देशों के तहत कक्षा 9 विषय कक्षा बारहवीं तक के छात्रों की कठिनाइयों को दूर करने के लिए परामर्श कक्षाओं का संचालन किया जा रहा है जिसमें संबंधित विषय की कठिनाई को छात्र अपने विषय शिक्षक से पूछ सकते हैं शासन के निर्देशों के तहत परामर्श कक्षाओं के आयोजन करने का निर्देश है जिसका पूरी तरह से पालन किया जा रहा है इसके पूर्व कक्षाओं को बेहतर ढंग से व्यवस्थित किया गया है और कक्षा बारहवीं गणित और विज्ञान के छात्रों को आज आमंत्रित किया गया था जिसमें से दो छात्राओं ने अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई है वही सभी विषयों के व्याख्याताओं को सोमवार को दोपहर 12:00 बजे विद्यालय में उपस्थित होने के निर्देश दिए गए थे इसके अलावा छात्राओं से सहमति पत्र प्राप्त कर उन्हें परामर्श कक्षाओं में प्रवेश दिया गया है।
प्राइवेट स्कूलों में भी पहुंचे छात्र
शासन के निर्देशों के तहत प्राइवेट स्कूलों में भी कक्षा 9वी से कक्षा बारहवीं तक के छात्रों को मार्गदर्शन देने के लिए परामर्श कक्षाओं का आयोजन किया गया हालांकि छात्रों की संख्या काफी कम रही फिर भी जितने भी छात्र स्कूल पहुंचे उनकी समस्याओं का समाधान किया गया नगर के नर्मदा नगर स्थित नवीन बोर्ड स्कूल में दो छात्रों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करवाएं जिन्हें विशेष शिक्षक के द्वारा आवश्यक जानकारी प्रदान की गई।
परामर्श कक्षा में 2 छात्रों ने दर्ज कराई उपस्थिति -स्कूल संचालक
पद्मेश न्यूज़ से चर्चा के दौरान नवीन बोर्ड स्कूल के संचालक पीके कोल्हाटकर ने बताया कि शासन की जो निर्देश प्राप्त हुए थे उसके तहत आंशिक तौर पर कक्षा 9वी से कक्षा बारहवीं तक के छात्रों के लिए स्कूल खोला गया है लेकिन पहले दिन केवल 2 छात्रों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई है आगामी समय में व्यापक प्रचार-प्रसार होने पर छात्रों की संख्या में इजाफा होगा उन्होंने कहा कि शासन की गाइडलाइन का पालन करते हुए छात्रों के लिए कक्षाएं निर्धारित की गई है जहां पर सोशल डिस्टेंसिंग सैनिटाइजर और साफ-सफाई कर छात्रों को शैक्षणिक गतिविधियों से जोड़ा जा रहा है वही विषय शिक्षकों को भी बुलाया गया है और निर्धारित संख्या के आधार पर छात्रों को कक्षाओं में प्रवेश दिया गया इसके अलावा उनसे शपथ पत्र बुलवाये गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here