डिप्टी रेंजर ने परिक्षेत्र अधिकारी को दी धमकी

0

लालबर्रा (पद्मेश न्यूज)। मुख्यालय से लगभग १२ किमी. दूर म.प्र. वन विकास निगम लामता परियोजना मंडल लालबर्रा अंतर्गत कंजई सर्किल में पदस्थ प्रभारी डिप्टी रेंजर दीपचंद वासुदेव के द्वारा १७ सितंबर को दिन-दहाड़े कंजई स्थित निवास के सामने शराब के नशे में ग्रामीणों से अभद्रता किये जाने का मामला प्रकाश में आया है जिसका वीडिया फेसबुक व वाट्सअप सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है, इस घटनाक्रम के पश्चात १८ सितंबर को प्रभारी परिक्षेत्र अधिकारी रवि गेडामे के द्वारा थाने में शिकायत दर्ज करवाई गई है कि डिप्टी रेंजर ने उन्हें फोन पर जातिगत रूप से अपमानित करते हुए गाली गलौच कर जान से मारने की धमकी दी है। वायरल हो रहे इस वीडियो के संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार १७ सितंबर को डिप्टी रेंजर दीपचंद वासुदेव ग्राम पंचायत कंजई में बस स्टेंड के समीप स्थित अपने निवास के सामने शराब के नशे में धुत होकर पड़े थे जिसे स्थानीय ग्रामीणों के द्वारा समझाने का प्रयास किया गया जिस पर उनके द्वारा ग्रामीणों से गाली-गलौच की गई ऐसी स्थिति में ग्रामीणों के द्वारा डायल १०० पुलिस को सूचना देकर मौके पर बुलाया गया जहां डायल १०० पुलिस के द्वारा डिप्टी रेंजर श्री वासुदेव को समझाइश दी गई। इस घटना के पश्चात डिप्टी रेंजर दीपचंद वासुदेव के द्वारा प्रभारी परिक्षेत्र अधिकारी रवि गेडामे व लालबर्रा सर्किल प्रभारी विजय कुमरे को फोन पर ट्रांसफर करवाये जाने के संबंध में बातचीत करते हुए गाली-गलौच की गई है जिसकी शिकायत प्रभारी परिक्षेत्र अधिकारी रवि गेडामे व जाम सर्किल डिप्टी रेंजर विजय कुमरे के द्वारा १८ सितंबर को थाने में की गई है एवं शिकायत के साथ मोबाइल में जातिगत रूप से गाली-गलौच व जान से मारने की धमकी दिये जाने संबंधी वाइस रिकार्डिंग की सीडी भी दी गई है साथ ही अपने वरिष्ठ अधिकारियों को उचित विभागीय कार्यवाही हेतु सूचना प्रेषित की गई है।
फोन में परिक्षेत्र अधिकारी को दी जान से मारने की धमकी
शिकायत के साथ सौंपी गई ऑडियो में डिप्टी रेंजर दीपचंद वासुदेव के द्वारा शराब के नशे में धुत्त होकर परिक्षेत्र अधिकारी रवि गेडामे को फोन लगाकर जान से मारने की धमकी दी गई है जिसके संबंध में थाना प्रभारी रघुनाथ खातरकर को की गई शिकायत में श्री गेडामे ने बताया कि १८ सितंबर को दोपहर में मोबाइल नंबर ७९७४१८९१० से वनपाल दीपचंद वासुदेव के द्वारा उनके मोबाइल नंबर ७९८७३५०७२० पर उसे व सहायक परियोजना क्षेत्राधिकारी विजय कुमरे को जातिगत रूप से गाली-गलौच करते हुए जान से मारने की धमकी दी गई। वनपाल दीपचंद वासुदेव के द्वारा १७ सितंबर को कंजई बस स्टेंड में ग्रामीणों को अभद्र गालियां दी गई जिस पर ग्रामीणों द्वारा डायल १०० को बुलवाया गया था।
अधिकारियों ने दिया है कार्यवाही का आश्वासन – गेडामे
पद्मेश से चर्चा में वन विकास निगम लामता परियोजना मंडल लालबर्रा प्रभारी परिक्षेत्र अधिकारी रवि गेडामे ने बताया कि १७ सितंबर को दोपहर में वनपाल दीपचंद वासुदेव के द्वारा दारू पीकर बस स्टेंड कंजई में ग्रामीणों के साथ गाली-गलौच की गई जिस पर ग्रामीणों के द्वारा डॉयल १०० को सूचना दी गई थी जिसके संबंध में जानकारी मिलने पर उनके द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित किया गया जिसके पश्चात १८ सितंबर को दीपंचद वासुदेव के द्वारा मेरा ट्रांसफर करवाये हो कहकर मोबाइल में जान से मारने की धमकी दी गई जिसकी शिकायत थाने में की गई है एवं अधिकारियों को भी सूचना देकर कड़ी से कड़ी कार्यवाही किये जाने की मांग की गई है जिस पर अधिकारियों के द्वारा उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया गया है।
जातिगत रूप से दी गई अश्लील गालियां – कुमरे
मध्यप्रदेश वन विकास निगम लामता परियोजना मंडल लालबर्रा अंतर्गत जाम सर्किल में पदस्थ डिप्टी रेंजर विजय कुमरे ने बताया कि १७ सितंबर को समस्त अमले के साथ वे ग्राम सेलवा में सर्च वारंट लेकर गये थे उसी दौरान फोन पर सूचना मिली कि ग्राम कंजई में डिप्टी रेंजर दीपचंद वासुदेव शराब पीकर पड़े है जिन्हें ग्रामीणों के द्वारा उठाने पर गाली-गलौच की गई जिस पर ग्रामीणों के द्वारा डॉयल १०० को सूचित कर बुलाया गया जिसके बाद १८ सितंबर को रेंजर रवि गेडामे के मोबाइल पर उन्हें अश्लील जातिगत गालियां दी गई, पूर्व में भी दीपचंद वासुदेव के द्वारा गाली-गलौच की जा चुकी है, उनके द्वारा थाने में शिकायत कर वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना दे दी गई है।
जांच उपरांत की जायेगी वैधानिक कार्यवाही – खातरकर
थाना प्रभारी रघुनाथ खातरकर ने बताया कि रेंजर रवि गेडामे के द्वारा १८ सितंबर को थाने में लिखित शिकायत की गई है कि कंजई सर्किल में पदस्थ डिप्टी रेंजर दीपचंद वासुदेव के द्वारा उनके मोबाइल पर गाली गुप्तार कर अपशब्द कहे गये है जिसकी जांच की जा रही है जिसमें जो भी सामने आयेगा उसके आधार पर वैधानिक कार्यवाही की जायेगी। श्री खातरकर ने बताया कि १७ सितंबर को डायल १०० को सूचना मिली थी कि कंजई में दीपचंद वासुदेव अपने निवास के आंगन में अत्यधिक शराब का सेवन किये हुये है जिस पर डायल १०० पुलिस वहां पहुंची थी लेकिन दीपंचद वासुदेव की हालत ठीक नहीं थी इसलिये उन्हें नहीं लाया जा सका और एमएलसी नहीं करवाई गई जिसके संबंध में वन विभाग को सूचित कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here