नहीं मिला एडमिशन,डेढ़ हजार से अधिक छात्र प्रवेश से वंचित

0

महाविद्यालय में छात्रों को प्रवेश ऑनलाइन प्रक्रिया के तहत मेरिट आधार पर दिया जा रहा है इस प्रक्रिया के तहत जटाशंकर त्रिवेदी स्नातकोत्तर महाविद्यालय में डेढ़ हजार से अधिक छात्र प्रवेश से वंचित हो रहे हैं। आपको बताएं कि यूजी और पीजी में प्रवेश प्रक्रिया के लिए अंतिम तिथि 28 अक्टूबर तक ही थी, ऐसे में छात्रों के सामने चिंता की लकीरें खड़ी हो गई है। प्रवेश से वंचित होने की यह समस्या खासकर स्नातकोत्तर कोर्स करने वाले छात्र-छात्राओं के सामने वर्तमान में आ रही है इसके पीछे वजह यह सामने आ रही है कि बालाघाट जिले में पीजी कोर्स वाले मात्र चार महाविद्यालय हैं जिला मुख्यालय के गर्ल्स कॉलेज सहित जिले के अन्य प्रमुख कॉलेजों में भी पीजी कोर्स प्रारंभ करवा दिया जाए तो यह समस्या नहीं आएगी। पीजी कॉलेज में पहुंचे छात्र नेता दयाल वासनिक ने बताया कि यह बहुत ही गलत प्रक्रिया है जिनका रिजल्ट अभी घोषित हुआ है उन छात्रों को महाविद्यालय में प्रवेश नहीं मिल रहा है जबकि वे महाविद्यालय के नियमित छात्र है। जिले के प्रमुख कॉलेजों में पीजी कोर्स प्रारंभ करवाने जनप्रतिनिधियों द्वारा ध्यान दिया जाना चाहिए। वहीं भारतीय जनता युवा मोर्चा के पदाधिकारी एवं सांसद प्रतिनिधि गौरव श्रीवास्तव ने कहा कि इस विषय को उनके द्वारा सांसद के संज्ञान में लाया गया है और सांसद श्री बिसेन द्वारा इस बारे में कुलपति से और उच्च शिक्षा विभाग से बात किए जाने के लिए आश्वस्त किया गया है। वही इस संदर्भ में चर्चा करने पर पीजी कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य पी एस कातुरकर ने बताया कि महाविद्यालय में 30 फीसदी सीट वृद्धि किए जाने के बाद भी बहुतायत छात्र प्रवेश से वंचित हो रहे हैं नगर के गर्ल्स कॉलेज में भी पीजी कोर्स खोल लिया जाए तो यह समस्या नहीं आएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here