पूर्व प्रभारी प्राचार्य पर लग रहे वित्तीय अनियमितता के आरोपों की जांच

0

वारासिवनी शासकीय शंकर साव पटेल महाविद्यालय वारासिवनी में 14 दिसंबर को अतिरिक्त संचालक उच्च शिक्षा विभाग जबलपुर संभाग के द्वारा गठित जांच दल पहुंचा जिसने पूर्व प्रभारी प्राचार्य डॉक्टर सरिता कोल्हेकर के खिलाफ की गई शिकायत की जांच की। यह जांच अतिरिक्त संचालक के द्वारा गठित दो व्यक्तियों का जांच दल नारायण प्रसाद हरदाह हॉस्टल मैनेजर शासकीय महाविद्यालय नैनपुर जिला मंडला एवं यदुनंदन कछवाहा लेखापाल शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय मंडला के द्वारा की गई।

जिसमें शासकीय अभिलेखों कि सूक्ष्मता से जांच की गई कि किस प्रकार से महाविद्यालय के फंड का खर्च किया गया है और जो खर्च किया गया है वह नियमानुसार है या नहीं है उसकी गहनता से जांच की गयी। विदित हो कि डॉक्टर सरिता कोल्हेकर की पूर्व में उच्च शिक्षा जबलपुर संभाग अतिरिक्त संचालक को शिकायत की गई थी कि शासकीय शंकर साव पटेल महाविद्यालय वारासिवनी में प्रभारी प्राचार्य के रूप में पदस्थ डॉक्टर सरिता कोल्हेकर के द्वारा उनकी पदस्थापना के दिन से लेकर जीतने दिनों तक वे अपने पद पर आसीन रहे उस दौरान क्रय की गई सामग्री में शासकीय भंडार क्रय नियम का पालन नहीं किया गया और इसमें वित्तीय अनियमितता की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here