भारी बारिश के बाद कई बांधों के गेट खुले

0

मध्यप्रदेश में बीते दो तीन दिन से लगातार हो रही तेज बारिश के कारण प्रदेश की नदियां उफान पर हैं। साथ ही शहडोल में बाणसागर बांध, शिवपुरी में अटल सागर डेम सहित प्रदेश के कई बांधों के गेट खोले जा रही हैं। इंदौर में तो तेज बारिश ने बीते 39 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। शहर में अब तक कुल बारिश औसत आंकड़े के करीब पहुंच चुकी है। वहीं नरसिंहपुर में ट्रक और बाइक की टक्कर में एक युवक की दर्दनाक मौत हो गई है। मध्यप्रदेश की अन्य ताजा जानकारी इस प्रकार है –

शहडोल : बाणसागर बांध के 14 गेट अभी भी खुलेशहडोल । तीन दिन से बारिश थमी हुई है लेकिन बाणसागर बांध के 14 गेट अभी भी 25 25 सेंटीमीटर खुले हुए हैं। पानी की निकासी जारी है । गौरतलब है कि जिले में अब तक 1 जून से लेकर 23 अगस्त तक 747 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। अनुमान है कि अगस्त महीने में अभी 1 सप्ताह बाकी है और 1 सप्ताह में अच्छी झमाझम बारिश होना है और यही कारण है कि बाणसागर बांध का पानी लगातार निकाला जा रहा है।शिवपुरी। जिले के सबसे बड़े अटल सागर मड़ीखेड़ा डेम के गेट आज रात 11 बजे सायरन बजाकर खोल दिये गए। 2 गेट सबसे पहले खोले जाने के बाद धीरे धीरे गेटों की संख्या बढ़ाई गई। सुबह 9 बजे तक 6 गेट खोलकर पानी छोड़ा जा रहा था। बता दे कि इस डेम से संभाग के 4 जिलों को लाभ मिलता है। भिंड, दतिया, ग्वालियर सहित शिवपुरी जिले के लिए सिंचाई के लिए पानी मिलता है। वहीं डेम के समीप स्थित 60 मेगावाट की मड़ीखेड़ा बिजली इकाई से बिजली का उत्पादन भी होता है। इसके अतिरिक्त शिवपुरी नगर के लिए मड़ीखेड़ा पेयजल परियोजना के लिए पेयजल भी मड़ीखेड़ा डेम से सप्लाई होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here