राहुल गांधी का पीएम मोदी पर तंज- अन्नदाता सड़कों में धरना दे रहे और “झूठ” टीवी पर भाषण

0

नईदिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक फिर किसानों के मुद्दे को लेकर मोदी सरकार पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में प्रदर्शन कर रहे किसानों के साथ एकजुटता प्रकट करते हुए कहा कि अहंकार की कुर्सी से उतरकर सोचिए और किसान का अधिकार दीजिए।
 
अहंकार की कुर्सी से उतरकर सोचिए और किसान का अधिकार दीजिए:  राहुल गांधी
राहुल गांधी ने मंगलवार को ट्वीट कर लिखा कि अन्नदाता सड़कों-मैदानों में धरना दे रहे हैं और ‘झूठ’ टीवी पर भाषण! उन्होंने लिखा कि किसान की मेहनत का हम सब पर क़र्ज़ है। ये क़र्ज़ उन्हें न्याय और हक़ देकर ही उतरेगा, न कि उन्हें दुत्कार कर, लाठियां मारकर और आंसू गैस चलाकर। राहुल गांधी ने सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जागिए, अहंकार की कुर्सी से उतरकर सोचिए और किसान का अधिकार दीजिए।

वहीं इससे पहले  कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने पार्टी कार्यकर्ताओं और आम लोगों से किसानों के पक्ष में खड़े होने की अपील करते हुए सोमवार को कहा कि यह ‘सत्य एवं असत्य की लड़ाई’ है जिसमें सभी को अन्नदाताओं के साथ होना चाहिए। उन्होंने सवाल किया कि अगर ये कानून किसानों के हित में हैं तो फिर किसान सड़कों पर क्यों हैं?

कांग्रेस के ‘स्पीक अप फॉर फार्मर्स’ नामक सोशल मीडिया अभियान के तहत एक वीडियो जारी राहुल गांधी ने कहा था कि देश के किसान काले कृषि क़ानूनों के ख़िलाफ़ ठंड में, अपना घर-खेत छोड़कर दिल्ली तक आ पहुंचा है। सत्य और असत्य की लड़ाई में आप किसके साथ खड़े हैं – अन्नदाता किसान या प्रधानमंत्री के पूंजीपति मित्र?” उन्होंने कहा, ‘‘देशभक्ति देश की शक्ति की रक्षा होती है। देश की शक्ति किसान है। सवाल यह है कि आज किसान सड़कों पर क्यों है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here