लंबे समय बाद सिद्धू ने तोड़ी चुप्पी, बोले- हमारे अस्तित्व पर हमला नहीं करेंगे बर्दाश्त

0

नई दिल्ली: कृषि विधेयक के लोकसभा में पारित होने के बाद से ही हंगामा मचा हुआ है। विपक्ष ही नहीं बल्कि बीजेपी के अपने सहयोगी भी इसका विरोध कर रहे हैं। शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने इस विधेयक के विरोध में गुरुवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया। अब कांग्रेस ने भी सरकार पर निशाना साधा है। पंजाब सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने इसे लेकर केंद्र सरकार को निशाने पर लिया है।

सिद्धू का ट्वीट
सिद्धू ने इसे लेकर दो ट्वीट किए, अपने पहले ट्वीट में उन्होंने शेर लिखते हुए कहा, ‘सरकारें तमाम उम्र यही भूल करती रही, धूल उनके चेहरे पर थी, आईना साफ करती रही।’ अपना दूसरा ट्वीट पंजाबी में करते हुए उन्होंने लिखा, ‘किसानी पंजाबी की आत्मा है। शरीर के घाव भर जाते हैं लेकिन आत्मा पर वार.. हमारे अस्तित्व पर हमला बर्दाश्त नहीं। पंजाबियों ने युद्ध का बिगुल बजाया, लंब समय तक क्रांति की। पंजाब, पंजाबियत और हर पंजाबी किसान के साथ।’

कांग्रेस विधायक का इस्तीफा

 आपको बता दें कि कृषि विधेयक का पंजाब में जबरदस्त विरोध हो रहा है। पंजाब के फतेहगढ़ साहिब से कांग्रेस के विधायक कुलजीत सिंह नागरा ने कहा कि उन्होंने लोकसभा में कृषि विधेयक पारित होने के विरोध में विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘भाजपा-अकाली सरकार द्वारा कृषि विधेयक पारित किए जाने से अत्यंत दुखी हूं, इसलिए मैं फतेहगढ़ साहिब से विधायक के रूप में अपना इस्तीफा देता हूं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here