सर्रा पुल के एप्रोच मार्ग पर हो रहा मिट्टी का पुन: कटाव, हो सकती है बड़ी दुर्घटना

0

लांजी (पद्मेश न्यूज)। लांजी मुख्यालय से 10 किलोमीटर दूर ग्राम कड़ता-सर्रा मार्ग में सोन नदी पर बना पुल का एप्रोच मार्ग 28 अगस्त की रात्रि में पानी के तेज बहाव से बह गया था। मध्यप्रदेश लोक निर्माण विभाग सेतू परिक्षेत्र द्वारा 160 मीटर के पुल का निर्माण किया गया था। यह पुल 8 करोड़ 10 लाख 39 हजार की लागत से बनाया गया था। वर्ष 2013-14 में यह पुल बनकर तैयार हुआ एवं इसी के साथ ही पुल से लगकर एप्रोच मार्ग भी बनाया गया। गत अगस्त माह में हुई भारी बारिश के चलते नदी में बाढ़ आ गई थी जिसके तेज बहाव से पुल का एप्रोच मार्ग ही बह गया था। जिसके उपरान्त मार्ग पर आवागमन बाधित हो गया था। लगभग सप्ताह भर के बाद प्रशासन के द्वारा बहे हुए एप्रोच मार्ग पर मुरूम मिट्टी डालकर पुल पर पुन: आवागमन प्रारंभ कराया गया, जिसके उपरान्त 9 सितम्बर को जिला कलेक्टर दीपक आर्य के द्वारा निरीक्षण कर गुणवत्ता पूर्वक मार्ग का निर्माण किये जाने संबंधी बात कही थी। किन्तु वर्तमान में बीते दो-तीन दिन से हो रही बारिश के कारण पुन: एप्रोच मार्ग पर भरी गई मिट्टी का कटाव होने लगा है। पुल से लगे एप्रोच मार्ग जहां पर मिट्टी मुरूम डाली गई थी उस ओर के दोनों किनारों से पुन: मिट्टी का कटाव होने लगा है, जिससे मार्ग पर दुर्घटना होने का अंदेशा बना हुआ है।
पुन: हो सकता है आवागमन बाधित

28 अगस्त की रात्रि में पुल का एप्रोच मार्ग बहने के पश्चात लगभग सप्ताह भर के बाद कलेक्टर दीपक आर्य ने दौरा कर पुल का निरीक्षण किया था। कलेक्टर ने देखा की सर्रा पुल पर पुलिया के एप्रोच मार्ग में ठेकेदार के द्वारा मिट्टी-मुरूम भर कर आवागमन प्रारंभ कराया गया है। कलेक्टर के द्वारा ठेकेदार की तारीफ करते हुए पुल कि गुणवत्ता के बारे में कहा गया किंतु पुल का एप्रोच मार्ग क्यों बहा इस ओर ध्यान नहीं दिया गया। मंगलवार 29 सितंबर को पद्मेश न्यूज संवादाता के द्वारा देखा गया कि बहे हुए एप्रोच मार्ग पर डाली गई मुरूम मिट्टी का पुन: कटाव होना प्रारंभ हो गया है। अगर प्रशासन के द्वारा इस ओर गंभीरता से ध्यान नहीं दिया गया तो आगामी समय में बड़ी दुर्घटना हो सकती है एवं पुन: इस मार्ग पर आवागमन बाधित हो सकता है। यदि पुल के दोनों ओर ठेकेदार द्वारा रिटर्निंग वॉल बनाई गई होती तो पुल का एप्रोच मार्ग नहीं बहा होता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here