हीरापुर में हत्या की वारदात,पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

0

बालाघाट (पद्मेश न्यूज)। उचित कानून व्यवस्था और मुस्तैद प्रशासन होने के बावजूद भी नगर और नगर के आसपास हत्याओं का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है और आए दिन जिले में हत्या होने की जानकारी सामने आ रही है हत्या की लगातार बढ़ती जा रही वारदातों के बीच 3 अक्टूबर की रात्रि भरवेली थाना अंतर्गत हीरापुर पंचायत के सामने एक 18 वर्षीय युवक ने हत्या करने की नियत से भरवेली निवासी 35 वर्षीय श्याम पिता राजू कठौते के पेट में चाकु मार दिया। जिसमें गंभीर रूप से घायल श्याम कठौते की ईलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में आरोपी हीरापुर निवासी 18 वर्षीय जानू पिता फ्रांसिस जान को 302 सहित संबंधित धाराओं के तहत गिरफ्तार किया है जिसे पुलिस ने न्यायालय में पेश करने के बाद न्यायिक रिमांड पर जेल भिजवा दिया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार 3 अक्टूबर की रात्रि लगभग 9 बजे हीरापुर निवासी बहन को छोडऩे श्याम कठौते मोटर सायकिल से हीरापुर गया था, इस दौरान श्याम कठौते से केवल इतनी भुल हो गई थी कि उसने, किसी के साथ गाली, गल्लौज कर रहे आरोपी हीरापुर निवासी जानू पिता फ्रांसिस जान को गाली देने से मना किया था। नशे में आरोपी युवक जानू जान को श्याम कठौते का रोकना पसंद नहीं आया और उसने अपने पास रखे चाकु से श्याम कठौते के पेट में हमला कर दिया। जिससे गंभीर हालत में श्याम कठौते को जिला चिकित्सालय लाया गया। जहां से उसे नागपुर मेडिकल रिफर किया गया था, जिसकी वहां ईलाज के दौरान मौत हो गई। इस मामले में पुलिस ने आरोपी जानू जान को गिरफ्तार कर लिया है। जिसे पुलिस ने न्यायालय में पेश करने के बाद न्यायिक रिमांड पर जेल भिजवा दिया है।
नहीं थम रहा हत्याओं का सिलसिला
पुलिस अनुविभाग बालाघाट अंतर्गत एक पखवाड़े में हत्या की तीसरी वारदात ने लोगों को चितिंत कर दिया है, खास बात यह है कि युवावस्था की दहलीज पर, पैर रखते ही अल्पवर्षीय युवा हत्याकांड के आरोपी के रूप में सामने आ रहे है। बात अगर हत्याओं की करें तो बीते 1सप्ताह के भीतर शहर में लगातार युवाओं द्वारा युवाओं पर हमला कर उनकी हत्या कर दी गई है। इससे शहर के भीतर युवाओं में नशे की लत और बिगड़ती कानून व्यवस्था की पोल खोल रही है। युवा रात में बेखौफ होकर शहर की मुख्य सड़कों पर बाइक चलाते हैं एक मोमो संचालक को ठोकर मार कर मौत के घाट उतार देते हैं। उसके बाद लगता है पुलिस गश्त करके सब कुछ शांत कर देगी।लेकिन एक पखवाड़े पर गौर किया जाए तो हत्याओं का यह सिलसिला थमता नजर नहीं आ रहा है गौरतलब हो कि एक पखवाड़े के दौरान पुलिस अनुविभाग अंतर्गत यह तीसरी हत्या की वारदात है, इसके पूर्व 27-28 सितंबर की दरमियानी रात ढीमरटोला निवासी आशीष वाहने की पुरानी रंजिश के चलते विवाद के बाद तीन युवकों ने सागौन वन में हत्या कर दी थी। वहीं 30 सितंबर की रात नाबालिग आरोपी ने मोती उद्यान के राजाभोज प्रतिमा के पास अपने दोस्त के साथ बैठे वार्ड क्रमांक 23 निवासी दूध डेयरी के पास निवासरत 19 वर्षीय सागर पिता राजू सोनी की हत्या कर दी थी। सभी वारदात में आरोपियों ने नशे में वारदात को अंजाम दिया था।
युवाओं के सर चढ़कर बोल रहा नशा
लगातार बढ़ती जा रही हत्याओं की इन वारदातों पर यदि गौर किया जाए तो यह सभी हत्याएं रात्रि के समय अंधेरे में हुई है और लगभग सभी हत्याओं के पीछे मुख्य वजह नशा बताया जा रहा है इससे अनुमान लगाया जा सकता है कि शहर के भीतर रात्रि गश्ती में कितनी मस्ती चल रही है। तभी तो युवा रात में नशा करते हैं नशे की हालत में वाहन दौड़ाते है।जरूरत पडऩे पर हत्या की घटना को अंजाम दे देते हैं पखवाड़े की सभी घटनाओं पर यदि गौर किया जाए तो उसमें साफ होता है कि युवाओं में शराब, गांजा सहित अन्य मादक पदार्थ की प्रवृत्ति तेजी से बढ़ रही है, जिसके कारण अपराध का ग्राफ भी बढ़ रहा है। बीते एक पखवाड़े में हुई हत्या जैसी संगीन अपराध को लेकर पुलिस भी चितिंत है। जिले में बढ़ रही हत्या की वारदात, खासकर ऐसी वारदातो में नाबालिग, युवा आरोपियों के शामिल होने पर चिंता जाहिर करते हुए पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी ने जिले के सभी थाना प्रभारियों को अपराधों को रोकने के निर्देश दिये है। खासकर नवयुवाओं में बढ़ती नशे की प्रवृत्ति और अपराध से रोकने के लिए नशा कर रहे ऐसे नाबालिग और नवयुवाओं को तलाश करने और पूर्व में चाकुबाजी की अपराधिक घटनाओं में शामिल रहे आरोपियों पर नजर रखने के निर्देश दिये गये है। बहरहाल अब देखना है कि जिले में तेजी से बढ़ रही हत्या जैसी घटनाओं को लेकर पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी के निर्देश पर अधिनस्थ अमला किस तरह से रोक लगाता है।साथ ही यह भी देखना दिलचस्प रहेगा कि क्या पुलिस जिले के युवाओं को नशाखोरी से दूर कर उन्हें सामान्य व्यक्ति बना पाती है या नहीं या फिर हत्याओं का यह सिलसिला आगे भी जारी रहेगा?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here