८० लाख रूपये की लागत से बना ग्रामीण खेल स्टेडियम

0

शासन-प्रशासन द्वारा खेल प्रतिभाओं को उभारने के लिये लाखों रूपये खर्च कर लालबर्रा विकासखंड मुख्यालय में खेल मैदान व स्टेडियम का निर्माण करवाया गया है ताकि खेलकूद प्रतियोगिताओं में रूचि रखने वाले बच्चे एवं युवा खिलाड़ी विभिन्न खेलों की प्रेक्टिस कर अपनी प्रतिभाओं को निखार सके लेकिन शासन द्वारा किये जा रहे।
प्रयास निरर्थक साबित हो रहे है और खिलाडिय़ों को सुविधाओं के अभाव में प्रेक्टिस करने के लिये मोहताज होना पड़ रहा है।

लालबर्रा नगर मुख्यालय से महज ३ किमी. दूर ८० लाख रूपये की लागत से निर्मित ग्रामीण खेल स्टेडियम की जो सुविधाओं व देखरेख के अभाव में वीरान पड़ा हुआ है, क्षेत्र के युवाओं को पूरी उम्मीद थी कि स्टेडियम बनने के बाद उन्हे बड़े शहरों की तर्ज पर वे सारी सुविधाएं, खेल सामग्री व व्यवस्था मुहैया हो पायेगी जिससे वे अपने खेल को ऊंचाई तक पहुंचा पायेंगे परंतु पिछले डेढ़ साल में शासन-प्रशासन के द्वारा ग्रामीण खेल स्टेडियम की ओर कोई ध्यान नही दिया गया जिसके चलते स्टेडियम वीरान पड़ा है और क्षेत्र की प्रतिभाएं निरंतर इंतजार कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here