11 केवी विद्युत लाइन की चपेट मे आने से धनीराम की मौत

0

लांजी (पद्मेश न्यूज)। जनपद पंचायत लांजी अन्तर्गत ग्राम पंचायत सहेकी मे स्वच्छ भारत अभियान के तहत सार्वजनिक सुलभ शौचालय का निर्माण कार्य प्रारंभ था जिसमे एक आदिवासी मजदुर ग्राम सहेकी निवासी धनीराम उईके की 11 केव्ही विद्युत लाईन की चपेट मे आने से मृत्यू हो गई। बतादे कि निर्माण कार्य जिस स्थान पर संचालित है वंही पास से 11 केव्ही विद्युत लाईन गुजरी है जिसके संपर्क मे आने से यह हादसा हुआ है। ग्राम पंचायत सहेकी मे ग्राम पंचायत के द्वारा शासकीय प्राथमिक शाला परिसर के समक्ष ही सार्वजनिक सुलभ शौचालय का निर्माण कार्य किया जा रहा है लगभग 3 लाख 75 हजार रूपये की लागत से निर्मित सुलभ शौचालय मे जिसमे एसबीएम, नरेगा एवं 14 वित्त आयोग से यह निर्माण कार्य प्रारंभ है जिसका पंचायत प्रतिनिधि एवं कर्मियो के द्वारा स्लैप करवाया जाना था जिस हेतु आदिवासी मजदुर धनीराम उईके, पूत्र अलीबाबा उइके, डालीराम उईके, पंकेश उईके, जितेन्द्र उईके सभी एक ही परिवार के सदस्य है जिन्हे 2 अक्टुबर को सुबह 6 से 7 बजे के बीच शौचालय निर्माण कार्य मेेंं लोहा बांधने के लिये बुलाया गया था। लगभग सभी मजदुर 7 बजे शौचालय निर्माण कार्य मे पंहुचे, शौचालय की छत पर लोहा काटकर बांधने का कार्य किया जा रहा था इसी दौरान धनीराम ने लगभग 15 से 20 फिट की लोहे सलाख पकडकर काटने के लिये उठाया तभी शौचालय के पास गुजरी 11 केव्ही के लाईन मे लोहे की सलाख टच हो गई, जिसके चलते धनीराम को जोरदार करंट लगा एवं करंट की चपेट मे आने से धनीराम की घटना स्थल पर ही मृत्यू हो गई। घटना के तुरंत बाद धनीराम को निजी बोलेरो वाहन से सिविल अस्पताल लाया गया जंहा धनीराम को मृत घोषित कर दिया गया। इस पुरी घटना में यह बात अवश्य सामने आती है कि 2 अक्टूबर शासकीय अवकाश के दिन क्यों मजदुरो से कार्य लिया जा रहा था तथा इस प्रकार से 11 केव्ही लाईन के पास सुलभ शौचालय निर्माण का ले आउट किसने दिया है इस विषय पर पंचायत सचिव बोहने एवं सरपंच देवेन्द्र कबीरे से चर्चा की गई तो बताया की अधिकारियो को द्वारा बेहद दबाव बनाया जा रहा है की जल्द से जल्द शौचालय का निर्माण कार्य पुर्ण किया जाये जिसको दृष्टिगत रखते हुये हमारे द्वारा लगातार बिना रूके कार्य करवाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here