30 लाख 33 हजार रुपए की धोखाधड़ी के मामले में 2 वर्ष से था फरार

0

कोतवाली पुलिस ने उत्कृष्ट सोसाइटी के नाम पर 33 लाख 30 हजार रुपए की धोखाधड़ी करने के मामले में 2 वर्ष से फरार चल रहे आरोपी महेंद्र बिसेन 40 वर्ष ग्राम हट्टा निवासी को उसके घर में गिरफ्तार किया। गिरफ्तार इस आरोपी को न्यायिक अभिरक्षा में जिला जेल भिजवा दिया गया है।

इस मामले के 13आरोपी पूर्व में गिरफ्तार किये जा चुके हैं।एक आरोपी की मौत हो चुकी है, और तीन आरोपी अभी भी फरार है। जिनकी तलाश की जा रही है।

कोतवाली पुलिस के मुताबिक सन 2013 में महेंद्र बिसेन सहित 17 आरोपियों ने बालाघाट जिले में उत्कर्ष सेवा साख सहकारी मर्यादित समिति खोली थी। इन आरोपियों ने इस सोसाइटी का रजिस्ट्रेशन करा कर आम जनता को सदस्य बनाया और इन लोगों से नगद रकम जमा कराई थी। और उस जमा रकम को इन आरोपियों ने बेईमानी पूर्वक स्वयं के उपयोग में लिया ।वही इन आरोपियों ने लोगों को अवैधानिक तरीके से ऋण देकर, ऋण की वसूली भी नहीं की।

2013 से 2017 तक इन आरोपियों ने जमा कर्ताओं की 33 लाख 30 हजार रुपए का गबन कर अफरातफरी कर दिया । जमा कर्ताओं द्वारा इस धोखाधड़ी की रिपोर्ट 2018 में कोतवाली में की गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here