Twitter यूजर्स के लिए खुशखबरी, अब नाम के आगे लगा सकेंगे ब्‍लू टिक, जानिये प्रक्रिया

0
LONDON, ENGLAND - NOVEMBER 07: In this photo illustration, The Twitter logo is displayed on a mobile device as the company announced it's initial public offering and debut on the New York Stock Exchange on November 7, 2013 in London, England. Twitter went public on the NYSE opening at USD 26 per share, valuing the company's worth at an estimated USD 18 billion. (Photo by Bethany Clarke/Getty Images)

Twitter Verification प्रोग्राम की तीन साल बाद वापसी हो रही है। इस पब्लिक वेरिफिकेशन प्रोग्राम को साल 2017 में बंद कर दिया गया था, जब Twitter पर गलत तरीके से ब्लू टिक चेकमार्क बैज देने के आरोप लगे थे। हालांकि Twitter दोबारा से साल 2021 से ब्लू टिक बैज के लिए वेरिफिकेशन्स प्रोग्राम शुरू करने जा रहा है। ऐसे में अब लोग ब्लू टिक के लिए दोबारा से रिक्वेस्ट कर सकेंगे। Twitter ने यूजर्स को खुशखबरी दी है। उसने फिर से पब्लिक वेरिफिकेशन प्रोग्राम शुरू करने की घोषणा की है। यह लगभग तीन वर्षों से बंद था। पब्लिक वेरिफिकेशन से मतलब है कि अब यूजर्स अपने Twitter अकाउंट में नाम के आगे ब्लू टिक लगवाने के लिए रिक्वेस्ट कर सकते हैं। इसके शुरू होने पर एक प्रक्रिया से गुजरना होगा। नए साल के साथ ही Twitter के पब्लिक वेरिफिकेशन प्रोग्राम की भी शुरुआत हो जाएगी। इसकी शुरुआत करने से पहले कंपनी इसके लिए यूजर्स से फीडबैक ले रही है। यूजर्स आठ दिसंबर तक अपना फीडबैक दे सकते हैं। Twitter के अनुसार, कंपनी ब्लू टिक के अलावा प्रोफाइल टाइप पर भी काम कर रही है। Twitter ने कहा कि उसकी तरफ से दुनियाभर के लोकल नॉन प्रॉफिट आर्गेनाइजेशन को सपोर्ट किया जा रहा है। साथ ही उन्हें अपने पार्टनर के जरिए विज्ञापन उपलब्ध कराया जा रहा है। इस तरह Twitter का उपयोग करके ज्यादा से ज्यादा लोगों तक विज्ञापन पहुंचाने में मदद मिलेगी।

घरेलू हिंसा के प्रति जागरुकता फैलाने के लिए इमोजी लॉन्च

माइक्रो ब्लॉगिंग साइट Twitter ने बुधवार को संयुक्त राष्ट्र महिला और संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार कार्यालय के साथ मिलकर महिलाओं के खिलाफ घरेलू हिंसा के प्रति जागरुकता फैलाने के लिए इमोजी लॉन्च की हैं। साथ ही कंपनी ने #GenerationEquality, #OrangeTheWorld, # 16Days और #HumanRightsDay जैसे हैशटैग भी जारी किए हैं। संयुक्त राष्ट्र महिला के कार्यकारी निदेशक Phumzile Mlambo-Ngcuka ने कहा है कि हमने पूरी दुनिया में देखा है कि कैसे लोग कोरोनावायरस को खत्म करने में लगे हैं। महिलाओं के खिलाफ घरेलू हिंसा भी एक महामारी है। हमें इस महामारी को भी जड़ से खत्म करना होगा। उन्होंने आगे कहा है कि हम महिलाओं के खिलाफ घरेलू हिंसा जैसी महामारी को खत्म करने के लिए ट्विटर जैसे पार्टनर के साथ मिलकर काम कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here