बालाघाट : एक व्यक्ति ने इमली के पेड़ में फांसी लगाकर की आत्महत्या

0

जिले के गढ़ी थाना क्षेत्र में आने वाले ग्राम सिजोरा में इसी ग्राम के व्यक्ति भजनसिंह पिता रामसिंह मरकाम 30 वर्ष ने शराब के नशे में अपने घर के पीछे इमली के पेड़ में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। गढ़ी पुलिस ने इस व्यक्ति की लाश बरामद की और पंचनामा कार्रवाई पश्चात पोस्टमार्टम करवाकर उसके परिजनों को सौंप दिए और मर्ग कायम कर जांच शुरू की है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार भजनसिंह मरकाम दो भाई है जो अपने परिवार के साथ अपने बड़े भाई कार्तिक मरकाम से अलग रहता था और खेती किसानी करता था। जिसके परिवार में पत्नी और एक 4 वर्ष की बेटी है। बताया गया है कि भजनसिंह शराब पीने का आदी था और शराब पीने के बाद उसकी हालत बिगड़ जाती थी और वह अपने घर के पीछे बाड़ी में स्थित इमली के पेड़ में ही फांसी लगाने की कोशिश करता था। इस वर्ष होली त्यौहार पर भी भजन सिंह ने शराब के नशे में अपने घर के पीछे इमली के पेड़ में फांसी लगाने की कोशिश की थी। किंतु समय रहते ही परिवार और मोहल्ले वालों ने उसे बचा लिए थे।

बताया गया कि 4 दिन पहले भजन सिंह की पत्नी परहा लगाने के लिए अपनी मौसी के घर ग्राम कोयलीखापा गई हुई थी। भजनसिंह अपने घर में बेटी के साथ रहता था। बताया गया है कि 18 जुलाई की शाम को भजनसिह के मवेशी अपने घर लाया और कोठे में बांधने के बाद शाम के समय अपने घर से निकला था किंतु वह घर नहीं लौटा ।19 जुलाई को सुबह भजनसिंह की मां गोबर फेंकने के लिए घर के पीछे बाड़ी तरफ गई थी तब उसने इमली के पेड़ के ऊपर से मोबाइल बजने की आवाज सुनी। उसने इमली के पेड़ के ऊपर देखी जहां पर भजनसिंह की फांसी पर लटकी हुई लाश थी और उसके जेब में रखा मोबाइल बज रहा था ।भजनसिह ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। इस घटना की रिपोर्ट कार्तिक मरकाम 32 वर्ष ने पुलिस थाना गढ़ी में की थी। जहां से सहायक उपनिरीक्षक अभय पटेल ग्राम सिंजोरा मौके पर पहुंचे और मृतक भजनसिंह की लाश इमली के पेड़ से नीचे उतर आए ।पंचनामा कार्रवाई पश्चात भजनसिंह की लाश पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिए। संभावना व्यक्त की गई कि भजनसिह ने शराब के नशे में अपने घर के पीछे इमली के पेड़ में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। आगे मर्ग जांच सहायक उप निरीक्षक श्री पटेल द्वारा की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here