3 दिन की बढ़त के बाद आज सस्ते हुए सोना-चांदी, इस महीने अब तक सोना 2500 और चांदी 4500 रुपए सस्ती हुई

0

इस हफ्ते लगा लगातार 3 दिन बढ़ने के बाद आज सोने और चांदी में गिरावट आई है। आज सोना 47 हजार और चांदी 68 हजार रुपए से भी कम पर आ गई है। MCX पर आज दोपहर 1 बजे सोना 167 रुपए कम होकर 46,905 रुपए पर ट्रेड कर रहा है। वहीं सफारा बाजार की बात करें तो इंडियन बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन की वेबसाइट के अनुसार आज सोना 165 रुपए सस्ता होकर 47,060 पर आ गया है। इस महीने सोना अब तक 2500 रुपए सस्ता हो चुका है।

चांदी भी सस्ती हुई
चांदी की बात करें तो MCX पर दोपहर 1 बजे चांदी 310 रुपए सस्ती होकर 67,620 पर ट्रेड कर रही है। इंडियन बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन की वेबसाइट के अनुसार सराफा बाजार में भी चांदी में मामूली गिरावट आई है। ये 58 रुपए सस्ती होकर 67,866 रुपए प्रति किलोग्राम पर आ गई है।

जून में अब तक 2500 रुपए सस्ता हुआ सोना
इंडियन बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन की वेबसाइट के अनुसार जून महीने की बात करें तो इस महीने सोना अब तक 2362 रुपए सस्ता होकर हुआ है। इस महीने की शुरुआत में यानी 1 जून को सोना 49,422 रुपए पर था जो अब 47,060 पर आ गया है। वहीं चांदी की बात करें तो ये 4,562 रुपए सस्ती होकर 72,428 से 67,866 रुपए पर आ गई है।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी सोना फिसला
अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी सोना फिसलकर 1777 अमेरिकी डॉलर प्रति औंस पर आ गया है। 1 जून को ये 1900 के करीब था। हालांकि एक्सपर्ट्स का मानना है कि आने वाले दिनों में सोना फिर महंगा हो सकता है।

निवेशकों को इस गिरावट से घबराने की जरूरत नहीं
अनुज गुप्ता कहते हैं कि सोने की इस गिरावट से निवेशकों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। ये गिरावट ज्यादा लम्बी चलने वाली नहीं है और इस साल के आखिर तक सोना 55 हजार रुपए तक जा सकता है। वहीं चांदी भी 80 हजार तक जा सकती है।

महंगाई बढ़ने का फायदा सोने को मिलेगा
केडिया कमोडिटी के डायरेक्टर अजय केडिया कहते हैं कि कोराना महामारी के कारण देश में महंगाई तेजी से बढ़ी है। जब भी महंगाई बढ़ती है तो इसका फायदा सोने को मिलता है। इसके अलावा अब लॉकडाउन भी खुल गया है इससे शादी और अन्य समारोह भी शुरू होंगे। इससे सराफा बाजार में भी सोने की मांग बढ़ेगी।

पिछले साल 56 हजार पर पहुंच गया था सोना
पिछले साल जब कोरोना अपने चरम पर था तक सोने का भाव अपने ऑल टाइम हाई पर पहुंच गया था। अगस्त 2020 में 56,200 रुपए के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा था। उस समय कोरोना महामारी के कारण निवेशकों में डर का माहौल बना हुआ था। इस समय फिर एक बार ऐसा ही माहौल बनने लेगा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here