थाने में अजीब शिकायत: चोरी से मालिक का इन्कार, प्रार्थी भी गायब

0

सिरगिट्टी थाने में चोरी की एक अजीब शिकायत सामने आई है। मामले में जब पुलिस ने पड़ताल शुरू की तो पता चला कि विभाग से जिस पुस्तक के चोरी होने की शिकायत की है उससे जिम्मेदार अधिकारी ही इन्कार कर रहे हैं। वहीं, मामले की जांच के दौरान शिकायतकर्ता ही नहीं मिल रहा है। ऐसे में पुलिस के समक्ष जांच को लेकर चुनौती खड़ी हो गई है।

तिफरा में शासकीय आश्रयदत्त कर्मशाला का संचालन किया जाता है। इसके अलावा तिलक नगर में भी स्वयं नाम से एक दफ्तर चल रहा है। यहां दिव्यांगों को आर्मेचर वाइडिंग व इलेक्ट्रीकल, पेंटिंग व कामर्शियल पेंटिंग व्यवसाय, सिलाई-कढ़ाई, ब्यूटी पार्लर का प्रशिक्षण दिया जाता है। कोरोना संक्रमण की वजह से प्रशिक्षण पिछले डेढ़ साल से बंद है। इस बीच विभाग की ओर से प्रशिक्षण के लिए करीब 50 हजार रुपये की किताबें खरीदी गई। इसे विभाग में सुरक्षित रखा गया था।

इस बीच मार्च-अप्रैल माह के बीच किसी ने पार कर दिया। इसकी जानकारी होने पर मामले की शिकायत समाज कल्याण विभाग के अलावा एसपी कार्यालय में की गई। एसपी के निर्देश पर मामले की जांच सिरगिट्टी थाना प्रभारी फैजुल शाह कर रहे हैं।

उन्होंने बताया कि इस संबंध में जिम्मेदार अधिकारियों से चर्चा की गई तो उन्होंने कहा कि जब पुस्तकें ही नहीं खरीदी गई हैं, तो चोरी होने का सवाल ही नहीं। मामले में सिरगिट्टी थाना प्रभारी फैजुल शाह ने कहा कि शासकीय आश्रयदत्त कर्मशाला से पुस्तकें चोरी होने की शिकायत मिली है। विभाग के अधिकरी चोरी से इन्कार कर रहे हैं। वहीं, प्रार्थी का भी पता नहीं चल पा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here