Morena News: घड़ियालों के आंगन में आ गया अटल प्रोग्रेस-वे, अब बदलेगी डिजाइन

0

केंद्र सरकार ने हाल ही में मध्य प्रदेश को सौगात देते हुए ग्वालियर अंचल के अटल प्रोग्रेस-वे को भारत माला परियोजना में शामिल किया है। किंतु अब इसमें एक नई समस्या आ गई है। दरअसल, प्रोग्रेस- वे का कुछ हिस्सा चंबल घड़ियाल सेंचुरी में आ गया है। इसके चलते अब डिजाइन में बदलाव होगा। गौरतलब है, 2018 में प्रदेश सरकार ने प्रोग्रेस-वे का खाका तैयार किया। पहले इस मेगा हाईवे की जिम्मेदारी मध्यप्रदेश सड़क विकास प्राधिकरण (एमपीआरडीसी) के पास थी, अब प्रोग्रेस-वे का जिम्मा नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआइ) को सौंपा गया है।

एमपीआरडीसी ने राजस्थान के दीगोद से लेकर श्योपुर, मुरैना और भिंड होते हुए उत्तर प्रदेश तक को जोड़ने के लिए 404 किलोमीटर लंबा अटल चंबल प्रोग्रेस-वे की फिजिबलिटी रिपोर्ट और एलयामेंट रिपोर्ट बनाई थी। सरकार ने पहले ही तय कर दिया था, कि प्रोग्रेस-वे चंबल घड़ियाल सेंचुरी (चंबल नदी) से तीन किलोमीटर दूर बनेगा, लेकिन एमपीआरडीसी ने जो डिजाइन बनाकर मुरैना में सरकारी जमीन का आवंटन करवा लिया है, उसमें सबलगढ़ से मुरैना तक तीन स्थान ऐसे हैं, जहां प्रोग्रेस-वे चंबल नदी की घड़ियाल सेंचुरी की सीमा में ही आ गया है।

घड़ियाल सेंचुरी के प्राविधानों के अनुसार चंबल नदी से एक किलोमीटर सीमा में किसी भी प्रकार के निर्माण नहीं हो सकते। फिर करनी पड़ेगी जमीन आवंटन की प्रकिया प्रोग्रेस-वे का सबसे बड़ा 144 किलोमीटर का हिस्सा मुरैना जिले की सीमा में हैं। इसके लिए एनएचएआइ ने 980 हेक्टेयर सरकारी व 475 हेक्टेयर जमीन निजी क्षेत्र की मांगी है। मुरैना जिला प्रशासन ने 980 हेक्टेयर सरकारी जमीन एनएचएआइ को पहले ही आवंटित कर दी है।

बताया गया है कि जिन तीन स्थलों पर प्रोग्रेस-वे, चंबल घड़ियाल सेंचुरी की जद में आ गया है, वह सरकारी जमीन है। ऐसे में प्रोग्रेस-वे का डिजाइन बदलने पर आवंटित हो चुकी जमीन को एनएचएआइ जिला प्रशासन को लौटा देगा, उसके बाद जिला प्रशासन को दूसरी जमीन आवंटित करनी पड़ेगी।

इनका कहना है

अटल चंबल प्रोग्रेस-वे का जो पुराना डिजाइन था, उसमें मुरैना जिले में प्रोग्रेस-वे चंबल घड़ियाल सेंचुरी की जद में आ गया है। प्रोग्रेस-वे को यहां से गुजारना सही नहीं होगा, इसीलिए एनएचएआइ दोबारा डिजाइन तैयार कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here