दीपक चाहर को दूसरे वनडे में पहले बल्‍लेबाजी करने क्‍यों भेजा था? भुवनेश्‍वर कुमार ने बता दिया पूरा गेम प्‍लान

0

कोलंबो: दीपक चाहर को श्रीलंका के खिलाफ दूसरे वनडे में भुवनेश्‍वर कुमार से पहले बल्‍लेबाजी पर भेजना भारतीय टीम के लिए मास्‍टरस्‍ट्रोक साबित हुआ। चाहर ने 69* रन की पारी खेलकर भारत को रोमांचक मैच में पांच गेंदें शेष रहते तीन विकेट की जीत दिलाई।

मैच के बाद भुवनेश्‍वर कुमार ने खुलासा किया कि आखिर क्‍यों दीपक चाहर को उन पर तरजीह दी गई। भारतीय उप-कप्‍तान ने कहा कि हेड कोच राहुल द्रविड़ ने चाहर को भारत ए दौरों और अन्‍य सीरीज पर बल्‍लेबाजी करते देखा था और यही वजह थी कि उन्‍हें पहले बल्‍लेबाजी के लिए भेजा।

दीपक चाहर ने मंगलवार को अपना पहला अर्धशतक जमाया और भारत को यादगार जीत दिलाई। मैच के बाद भुवी ने कहा, ‘दीपक चाहर ने हमारे हेड कोच राहुल द्रविड़ के साथ पहले भी काम किया है। भारत ए और अन्‍य कुछ सीरीज में चाहर ने द्रविड़ के सामने बल्‍ले से योगदान दिया था। इसलिए द्रविड़ को पता था कि चाहर बल्‍लेबाजी कर सकता है और वह कुछ गेंदों पर प्रहार भी कर सकता है। यह द्रविड़ का फैसला था कि चाहर पहले बल्‍लेबाजी करने जाए और आगरा के क्रिकेटर ने इसे एकदम सही साबित किया। हम सभी को पता था कि वह बल्‍लेबाजी कर सकता है, उसने पहले भी कई बार ऐसा किया है। यह मुश्किल फैसला नहीं था, लेकिन उसे रन बनाते देखकर अच्‍छा लगा।’

बता दें कि भुवनेश्‍वर कुमार ने मैच में 19* रन का महत्‍वपूर्ण योगदान दिया और दीपक चाहर के साथ 84 रन की अविजित साझेदारी करके भारत को जीत दिलाई। 31 साल के भुवनेश्‍वर कुमार ने चार साल पहले इसी तरह की स्थिति में श्रीलंका के खिलाफ अपना पहला अर्धशतक जमाया था। तब उन्‍होंने धोनी के साथ मिलकर 108* रन की साझेदारी करके भारत को तीन विकेट से जीत दिलाई थी। उस मैच में भुवी ने 53* रन बनाए थे।

भारत के पास जल्‍द एक और तेज गेंदबाज ऑलराउंडर होगा: भुवी

भुवनेश्‍वर कुमार ने कहा कि भले ही दीपक चाहर को तेज गेंदबाज ऑलराउंडर कहना जल्‍दबाजी होगी, लेकिन वह ऐसा बनने के लिए सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। भुवी ने कहा, ‘दीपक चाहर में बहुत क्षमता है, जैसा कि उन्‍होंने आज करके दिखाया। मुझे विश्‍वास है कि अगर उन्‍होंने ऐसा प्रदर्शन जारी रखा तो भारत के पास जल्‍द ही एक और तेज गेंदबाज ऑलराउंडर होगा।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here