JEE Main Result 2021 के बाद MP के इंजीनियरिंग कालेजों में शुरू होगे प्रवेश

0

आइआइटी सहित देशभर के तकनीकी संस्थानों में प्रवेश के लिए होने वाली ज्वाइंट एंट्रेंस एक्जामिनेशन (जेईई) मेन के चौथे चरण के परिणाम 10 सितंबर को जारी होने वाले थे लेकिन देर रात तक भी परिणाम जारी नहीं हो सके। विद्यार्थी शुक्रवार सुबह से रात तक नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) की वेबसाइट को रीफ्रेश करते रहे। शनिवार सुबह ज्यादातर विद्यार्थियों को पता लगा कि परिणाम अब 12 सितंबर को जारी होंगे। इस दिन विद्यार्थियों को पता लग जाएगा कि उन्हें कितने पर्सेंटाइल प्राप्त हुए हैं। चारों चरण में से जिसमें सबसे ज्यादा पर्सेंटाइल प्राप्त होंगे उस आधार पर जेईई एडवांस में शामिल होने का मौका मिलेगा। देशभर से करीब 2.5 लाख विद्यार्थी एडवांस में शामिल होंगे। परीक्षा के विशेषज्ञों का कहना है कि जिन विद्यार्थियों के पर्सेंटाइल 90 से ज्यादा आएंगे उन्हें जेईई एडवांस में शामिल होने का मौका मिल सकता है। इन विद्यार्थियों के लिए एडवांस में शामिल होने के लिए पंजीयन की लिंक 13 सितंबर से खुल जाएगी। चौथे चरण के परिणाम का इंतजार खासकर प्रदेश के विद्यार्थियों को भी है। ऐसा इसलिए क्योंकि मध्यप्रदेश में जेईई मेन के अंकों के आधार पर प्रवेश के लिए काउंसिलिंग होगी। प्रदेश के कई विद्यार्थियों ने स्थानीय कालेजों में प्रवेश लेने के हिसाब से ही इस बार परीक्षा दी है। सितंबर में इंजीनियरिंग कालेजों में प्रवेश शुरू हो जाएंगे। अक्टूबर में सेकंड काउंसिलिंग का आयोजन हो सकता है।

रविवार दोपहर तक भी परिणाम जारी नहीं हो सके थे। छात्र कई बार साइट पर वीजिट करते रहे, लेकिन उन्हें निराशा ही हाथ लगी। पिछले तीन बार की जेईई मेन में इंदौर के कई विद्यार्थियों को 95 पर्सेंटाइल से ज्यादा अंक प्राप्त हुए हैं। इनकी संख्या 100 से 150 के बीच रही है। इस बार भी उम्मीद है 150 से ज्यादा विद्यार्थी को इतने पर्सेंटाइल मिल सकते हैं और उन्हें एडवांस में शामिल होने का मौका मिलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here