पटरी पर लौट रही है अर्थव्यवस्था, 11.6% बढ़ा कोर सेक्टर इंडस्ट्रीज का उत्पादन

0

कोरोना महामारी से बुरी तरह प्रभावित देश की अर्थव्यवस्था अब पटरी पर लौटता दिख रही है। गुरुवार को जारी सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अगस्त महीने में देश के कोर सेक्टर का उत्पादन 11.6 फीसदी बढ़ा है। पिछले साल अगस्त महीने में इन इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर की इंडस्ट्रीज के उत्पादन में 6.9 प्रतिशत की गिरावट आई थी। कोर सेक्टर में देश के 8 प्रमुख इंफ्रास्ट्रक्चर इंडस्ट्रीज – कोयला, क्रूड ऑयल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, उर्वरक, स्टील, सीमेंट और बिजली शामिल हैं। आपको बता दें कि यह लगातार तीसरा महीना है जब कोर सेक्टर आउटपुट में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। इससे पहले जुलाई महीने में कोर इंफ्रास्ट्रक्टर इंडस्ट्रीज का उत्पादन 9.4 पर्सेंट रहा था।

आपको बता दें कि औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (IIP) में कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, उर्वरक, इस्पात, सीमेंट और बिजली का 40.27 फीसदी हिस्‍सा है। बता दें कि अगस्‍त 2021 में लगातार तीसरे महीने बुनियादी क्षेत्र उद्योगों में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। आंकड़ों के मुताबिक कोयला, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पादों, स्टील, सीमेंट और बिजली का उत्पादन अगस्त 2021 में सालाना आधार पर बढ़ा है। उदाहरण के लिए अगस्त महीने में कोयले के उत्पादन में 20.6 पर्सेंट की बढ़ोतरी दर्ज की गई। वहीं दूसरी तरफ क्रूड ऑयल और उवर्रक उद्योगों के उत्पादन में गिरावट आई है। वहीं क्रूड ऑयल के उत्पादन में अगस्त में 2.3 पर्सेंट की गिरावट दर्ज की गई।

रोजगार के मामले में भी सुधार

औद्योगिक उत्पादन में बढ़ेातरी के चलते रोजगार के मोर्चे पर भी अच्छे संकेत मिल रहे हैं। कोरोना की दूसरी लहर के बाद औद्योगिक गतिविधियों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग के आर्थिक सलाहकार कार्यालय (DPIIT) ने अगस्त 2021 के लिए आठ कोर उद्योगों (ICI) का सूचकांक जारी किया है। इनमें बढ़ोतरी से साफ संकेत मिलते हैं कि आर्थिक गतिविधियों में उछाल आया है और लोगों को रोजगार के ज्यादा मौके मिल रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here