मध्य प्रदेश में कांग्रेसी जबरन बंद कराने उतरे दुकानें, कई जगह विवाद

0

भोपाल। पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस की कीमतों में वृद्धि के खिलाफ आज प्रदेशभर में कांग्रेस नेता आधे दिन के बंद के आव्हान के साथ सड़कों पर उतरे। उज्जैन में कांग्रेस कार्यकर्ता सुबह बाजारों में निकले, इस दौरान दुकानें खुली मिलीं। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कुछ दुकानों को जबरन बंद कराने की कोशिश की, इस दौरान विवाद भी हुआ। हालांकि मौके पर मौजूद पुलिस की समझाइश के बाद कार्यकर्ता मान गए। बंद का शहर में कोई खास असर देखने को नहीं मिला है। इंदौर के राजवाड़ा पर भी कांग्रेसियों और दुकानदारों के बीच जबरनबंद कराने को लेकर विवाद हुआ। बालाघाट में खुली दुकानों को बंद कराने पहुंचे कांग्रेसी, दुकानें जबरदस्ती बंद कराने पर पुलिस ने कांग्रेसियों को दी हिदायत, कहा जबरदस्ती नहीं करा सकते बंद। भोपाल में पूर्व मंत्री पीसी शर्मा सहित कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

मंदसौर में बंद के लिए कांग्रेस नेता मांगते रहे समर्थन

मंदसौर में बंद के समर्थन के लिए कांग्रेस नेता व्यापारियों इसे समर्थन देने की मांग करते रहे। किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पुलिस बल तैनात है।

दमोह में नहीं दिखा कांग्रेस के बंद का असर

दमोह में कांग्रेस के बंद का कुछ असर नहीं दिखाई दिया क्योंकि 12 बजे तक ही शहर का मार्केट खुलता है। सुबह से ही हर रोज की तरह आज भी सुबह दुकानें बंद रही और जैसे ही 12 बजे बजे मार्केट पूरा खुल गया। हालांकि कांग्रेस के द्वारा 12 बजे तक ही यह बंद बुलाया गया था जिसके तहत कांग्रेस पदाधिकारियों ने व्यापारियों से इस बंद में सहयोग करने का आह्वान किया था। इसीलिए व्यापारी भी अपने तय समय पर ही अपने प्रतिष्ठान खोलने पहुंचे। बंद को लेकर पूरे शहर में पुलिस बल तैनात किया गया था शहर के सभी ब्प्रमुख़ चौराहो पर जिला पुलिस के साथ सशस्त्र पुलिस बल तैनात था। जिससे यदि कहीं कोई विवाद की स्थिति बने तो उसे निपटा जा सके।

इंदौर में रीगल तिराहे पर स्थित पेट्रोल पंप बंद रहा।

विदिशा में तैनात रही पुलिस

महंगाई के विरोध में कांग्रेस के आव्हान पर शनिवार को पूरी तरह से विदिशा बंद रहा। विदिशा बंद को लेकर कहीं कोई अप्रिय घटना नहीं हो इसके लिए जगह-जगह पुलिस तैनात की गई है। इसके अलावा पुलिस के वरिष्ठ अफसर स्वयं शहर का जायजा ले रहे हैं। बस स्टैंड पर चाय नाश्ता की दो दुकानों पर जरूर हल्की बहस हुई तो कांग्रेसियों ने उन्हें माला पहनाकर स्वागत किया। ज्यादातर व्यापारियों ने स्वेच्छा से अपनी दुकान और प्रतिष्ठान बंद रखें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here