मैं जिंदा हूं’; तालिबान की आपसी लड़ाई में बरादर के मारे जाने की आई थी खबर

0

 अफगानिस्तान में तालिबान सरकार में उप प्रधानमंत्री मुल्ला अब्दुल गनी बरादर ने एक ऑडियो संदेश में पुष्टि की कि वह जीवित है और कहा कि वह घायल नहीं हुआ था। तालिबान के प्रवक्ता मोहम्मद नईम ने इस मैसेज को ट्वीट किया। तालिबान के बीच झड़पों में बरादार के घायल होने या मारे जाने की खबरें सामने आई थीं। 

बरादर ने तालिबान द्वारा पोस्ट किए गए एक ऑडियो संदेश में मौत की अफवाहों के लिए ‘फर्जी प्रचार’ को जिम्मेदार ठहराया। उसने मैसेज में कहा कि मेरे निधन की खबर मीडिया में आई थी। पिछली कुछ रातों से मैं यात्राओं पर गया हूं। इस समय मैं जहां भी हूं, हम सब ठीक हैं, मेरे सभी भाइयों और दोस्तों। मीडिया हमेशा नकली प्रचार प्रकाशित करता है। इसलिए, उन सभी झूठों को बहादुरी से खारिज करें और मैं आपके लिए 100 प्रतिशत पुष्टि करता हूं कोई समस्या नहीं है।

मुल्ला हसन अखुंद को प्रधानमंत्री और बरादर को डिप्टी के रूप में नियुक्त किए जाने के बाद तालिबान के भीतर गुटबाजी की खबरें सामने आई थीं। हालांकि यह माना जाता था कि मुल्ला अब्दुल गनी बरादर सरकार के प्रमुख हो सकते हैं।  बरादर ने उमर की मृत्यु के बाद वास्तविक नेता की स्थिति संभालने से पहले तालिबान के शुरुआती वर्षों के दौरान उमर के डिप्टी के रूप में कार्य किया था। बरादर ने अमेरिका के साथ समझौते पर हस्ताक्षर किये थे, जिसके तहत अमेरिका पूरी तरह अफगानिस्तान से बाहर निकल गया था। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here