ग्लेनमार्क लाइफ साइंस 695-720 रुपए पर लाएगी इश्यू, आनंद राठी वेल्थ जुटाएगी 900 करोड़ रुपए

0

IPO बाजार में धूम जारी है। फार्मा कंपनी ग्लेनमार्क लाइफ साइंसेस 695 से 720 रुपए के भाव पर इश्यू लाएगी। कंपनी कुल 1,513 करोड़ रुपए इसके जरिए जुटाएगी। इसमें से 1,060 करोड़ रुपए नए शेयरों के जरिए जुटाया जाएगा।

63 लाख शेयर ऑफर फॉर सेल में बिकेंगे

कंपनी ने बताया कि 63 लाख शेयर ग्लेनमार्क फार्मा ऑफर फॉर सेल के तहत जारी करेगी। ऊपरी भाव यानी 720 के आधार पर कुल रकम 1,513 करोड़ रुपए होगी। यह इश्यू 27 जुलाई को खुलेगा और 29 को बंद होगा। ग्लेनमार्क लाइफ साइंसेस मूलरूप से एक्टिव फार्मा इंग्रेडिएंट (API) के मैन्युफैक्चरिंग के बिजनेस में काम करती है। इसके पोर्टफोलियों में कुल 120 प्रोडक्ट हैं। इसमें ग्लेनमार्क फार्मा की 100% अभी हिस्सेदारी है।

एंकर निवेशक 26 जुलाई को पैसा लगा सकेंगे

एंकर निवेशक IPO में 26 जुलाई को निवेश कर सकेंगे। शेयर 6 अगस्त को स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्ट होगा। इसके मर्चेंट बैंकर्स में गोल्डमैन, कोटक महिंद्रा कैपिटल, बैंक ऑफ अमेरिका सिक्योरिटीज, डीएएम कैपिटल, बॉब कैपिटल, और एसबीआई कैपिटल मार्केट्स शामिल हैं। IPO से जुटाई गई रकम में से 900 करोड़ रुपए का उपयोग कंपनी बकाया चुकाने के लिए करेगी। बाकी की रकम का इस्तेमाल अन्य निवेश के लिए किया जाएगा।

यह एक अलग यूनिट के रूप में काम करती है

ग्लेनमार्क फार्मा की API वर्टिकल को ग्लेनमार्क लाइफ साइसंसेज के नाम से भी जाना जाता है। चुंकि यूनिट एक अलग कंपनी बनने की पूरी योग्यता रखती है, इसलिए वर्टिकल को शेयर बाजार में लिस्ट कराया जाएगा। API सेगमेंट का वैल्यूएशन बढ़ने की उम्मीद है, जिसका फायदा कंपनी उठाना चाहती है।

आनंद राठी वेल्थ भी लाएगी इश्यू

उधर दूसरी ओर आनंद राठी वेल्थ ने सेबी के पास मसौदा जमा कराया है। इसके जरिए कंपनी 800-900 करोड़ रुपए जुटाने की योजना बना रही है। इसमें आनंद राठी फाइनेंशियल सर्विसेस 92.9 लाख शेयर बेचेगी। साथ ही अन्य प्रमोटर जिसमें आनंद राठी, अमित राठी, सुप्रिया राठी, प्रीति गुप्ता और प्रदीप गुप्ता भी अपने शेयर बेचेंगे।

अमीर परिवारों पर फोकस करती है कंपनी

आनंद राठी वेल्थ, आनंद राठी फाइनेंशियल सर्विसेस की कंपनी है। यह मूलरूप से अमीर परिवारों पर फोकस करती है। इसके पास 6 हजार से ज्यादा ग्राहक हैं जिनको सेवाएं मिलती हैं। 233 रिलेशनशिप मैनेजर हैं। यह करीबन 26,058 करोड़ रुपए को मैनेज करती है। इससे पहले इसने सितंबर 2018 में भी IPO के लिए सेबी के पास मसौदा जमा कराया था। बाद में इसने इसे वापस ले लिया था। क्योंकि उस समय बाजार की स्थिति अच्छी नहीं थी।

साल 2018 में इसका फायदा 46 करोड़ रुपए का था जबकि रेवेन्यू 221 करोड़ रुपए था। मार्च 2021 में समाप्त वित्त वर्ष में इसका रेवेन्यू 265 करोड़ रुपए जबकि शुद्ध फायदा 45 करोड़ रुपए रहा था।

पॉलिसी बाजार की भी तैयारी

उधर, पॉलिसी बाजार ने भी IPO की तैयारी कर दी है। जापान के सॉफ्ट बैंक के निवेश वाली ऑन लाइन इंश्योरेंस एग्रीगेटर ने 6,500 करोड़ रुपए के IPO के लिए मंजूरी दे दी है। यह देश का पांचवां स्टार्टअप होगा जो इश्यू की तैयारी कर रहा है। इसके IPO में फ्रेश शेयर और ऑफर फॉर सेल दोनों कंपोनेंट होंगे। कंपनी जल्द ही इस मामले में सेबी के पास मसौदा जमा कर सकती है। कंपनी दिसंबर तक IPO लांच कर सकती है।

इससे पहले जोमैटो ने पिछले हफ्ते अपना IPO लाया था। पेटीएम ने पिछले हफ्ते ही IPO के लिए सेबी के पास कागजात जमा कराया है। पॉलिसीबाजार को वित्त वर्ष 2020-21 में 218 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था। इससे पहले के साल में उसे 213 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था। इसने हाल में एक बीमा ब्रोकिंग कंपनी को भी खरीदा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here